क्या है कोरोना का ओमिक्रोन वेरिएंट जाने सबकुछ ?

हमारा देश अभी हाल ही में कोरोना की दूसरी लहर से उभरा है, जिसका जिम्मेदार डेल्टा वेरिएंट था I अब एक बार फिर पूरे विश्व में कोरोना का एक और नया वेरिएंट जिसका नाम ओमिक्रोन वेरिएंट (omicron variant) रखा गया है जो कि डेल्टा वजह से भी काफी ज्यादा घातक और खतरनाक है I

जो कि कोरोना की तीसरी लहर का कारण बन सकता है, अगर आप नहीं जानते हो कि omicron variant क्या है? और यह कितना घातक है I

तो आज हम आपको इस आर्टिकल माध्यम से कोरोना का ओमिक्रोन वेरिएंट से जुड़ी सभी जरूरी जानकारी उपलब्ध करवाएंगे और इसके साथ ही आप इस नए म्युटेशन से बचने के उपाय और सभी जरूरी बातों की जानकारी आप तक पहुंच पाएगी I

जिसके लिए इस पोस्ट को आप को पूरा पढ़ना होगा ।

ओमिक्रोन वेरिएंट क्या है? (Omicron Variant kya hai)

जब किसी वायरस का म्यूटेशन यानी उसमें बदलाव होता है, तो उसकी जांच वैज्ञानिकों के द्वारा की जाती है I जिससे कि उसके स्पाइक प्रोटीन में हुए बदलाव का विश्लेषण कर वैज्ञानिक यह पता लगाते हैं, कि यह वायरस कितना घातक और तेजी से फैलने वाला बनेगा I जिसका पता जीनोम सिक्वेंसिंग के माध्यम से पता किया जा रहा है I

अगर जांच में वायरस घातक पाया जाता है, तो उसे का नाम एक नए वेरिएंट के नाम के साथ रख दिया जाता है I अभी के समय में कोरोना का एक नया ओमिक्रोन वैरिएंट सामने आया गया है, जिसका नाम ग्रीक शब्दावली में अल्फा बीटा गामा और डेल्टा अल्फाबेट से लिया गया है I

omicron variant kya hai | ओमिक्रोन वेरिएंट

कुल मिलाकर कोरोना वायरस का यह ओमिक्रोन वेरिएंट एक नया म्यूटेशन है I जांच में यह पाया गया है कि यह म्यूटेशन कोरोना वायरस के पिछले यानी डेल्टा वैरिएंट से 10 गुना ज्यादा संक्रामक है, जो कि मानव जाति के लिए एक खतरा साबित हो सकता है I

जोकि वर्तमान में तीसरे लहर का कारण बनने की ओर अग्रसर है I

ओमिक्रोन वेरिएंट के लक्षण? (Symtoms of Omicron Variant )

कोरोनावायरस के इस ओमिक्रोन वेरिएंट के बारे में कहा जा रहा है कि यह सबसे ज्यादा खतरनाक तो है लेकिन इसके जितने भी मरीज मिले हैं उनमें कोविड-19 के सामान्य लक्षण जैसे- फ़्लू, सांस लेने में समस्या, गले में खराश, बुखार, थकान बदन दर्द आदि कुछ प्रमुख लक्षण नहीं दिखाए गए हैं I

अभी तक शोध में कोरोना वायरस के इस नए वेरिएंट के मरीज को किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं दिखाई दिए गए हैं I

कितना घातक है ये कोरोना का नया ओमिक्रोन वेरिएंट?

अभी तक देश या विदेश में जितने भी कोरोना के मरीज मिले हैं, उन पर कोरोनावायरस के इस नए वेरिएंट का ज्यादा दुष्ट प्रभाव नहीं पड़ा है I अभी तक यह बताना मुश्किल होगा कि कोरोना के इस वेरिएंट का नुकसान कितना ज्यादा और घातक होगा I

जिसकी जानकारी आपको समय के साथ आगे पता चल पाएगी। फिलहाल अभी के समय में यह वायरस कितना घातक है, इसकी जानकारी स्पष्ट रूप से नहीं पाना मुश्किल है I

ओमिक्रोन वेरिएंट से कैसे बचा जा सकता है?

कोरोना वायरस का इस नया ओमिक्रोन वेरिएंट से बचाव और रोकथाम के लिए आपको भारत सरकार के द्वारा बताई गई गाइडलाइन जिसमें आपको मास्क पहनना, अपने हाथों को साफ रखना, 2 गज के सुरक्षित दूरी, वैक्सीन दोनों डोज आदि को लगवाने का आग्रह किया गया है I

इन चारों बातों का पालन करके आप कोरोना से काफी हद तक बचा जा सकेगा ।

  • मास्क पहनना
  • अपने हाथों को साफ रखना
  • 2 गज के सुरक्षित दूरी
  • वैक्सीन दोनों डोज आदि को लगवाने का आग्रह किया गया है I

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन का नामकरण किस विधि से किया गया है?

कोरोना वायरस के किसी भी नए म्युटेशन का पता लग जाने पर डब्ल्यूएचओ के द्वारा दी गई सलाह के अनुसार इन वायरस का नाम साइंटिफिक ना होकर आम बोलचाल वाली भाषाओ के नाम पर रखा जाता है I

जिससे कि इन वर्षों के प्रति लोगों को जागरूकता को फैलाकर इससे बचा जा सके I अभी वर्तमान में कोरोना वायरस का नाम ग्रीक भाषा के शब्द अल्फा बीटा गामा जैसे शब्दों से लिया गया है I अभी वर्तमान में इस नए वेरिएंट का नाम ओमिक्रोन रखा गया है I

कोविड-19 के डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट में क्या अंतर है?

हम आपको कोरोना के इन दोनों संस्करण (वेरिएंट) के बारे में अंतर बताना काफी ज्यादा डिटेल प्रक्रिया है I लेकिन हम आपको आसन भाषा में कोरोना वायरस डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट में क्या अंतर बताएँगे जो की निचे लिस्ट के माध्यम से विस्तार पूर्वक बता गया है I

कोविड-19 के डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट में क्या अंतर है?

डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट में अंतर-

  1. कोरोना के ये दोनों नाम डेल्टा और ओमिक्रोन covid-19 संक्रमण के नए संस्करण है I इनका नाम who के द्वारा रखा जाता है I
  2. डेल्टा संस्करण का वैज्ञानिक नाम B.1.617.2. के नाम से जाना जाता है I जबकि Omicron वेरिएंट का वैज्ञानिक नाम B.1.1.1.529. है ।
  3. डेल्टा वैरिएंट को सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में इसकी पहचान हुई थी, और ओमिक्रोन वैरिएंट की पुष्टि भी सबसे पहले south अफ्रीका में हुई थी I
  4. डेल्टा के S प्रोटीन में 18 म्यूटेशन पाए गए है जबकि omicron के S प्रोटीन में 30 म्यूटेशन पाए गए है I
  5. ओमिक्रॉन के रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन में 10 म्यूटेशन हैं, और डेल्टा वैरिएंट में केवल 2 ही म्यूटेशन हुए है ।
  6. डेल्टा की वैक्सीनेटेड लोगों पर वैक्सीन की एफिकेसी 60 % है, और ओमिक्रोन पर आना बाकी है I
  7. डेल्टा के इस वैरिएंट की वजह से मौत का आकड़ा बड़ा था I और अभी तक अमोक्रोन की वजह से मौत का आकड़ा अभी क्लियर नहीं है I

ओमिक्रोन वेरिएंट से जुड़े कुछ सवाल-जवाब

Q.1 क्या कोरोना का नया ओमिक्रोन वेरिएंट ज्यादा जानलेवा साबित होगा?

Ans- अभी जाँच में इसका पता बही चल पाया है, अधिकारिक डाटा आना अभी बाकी है I

Q.2 क्या ओमिक्रोन, डेल्टा से ज्यादा खतरनाक है?

Ans- अभी इसकी पुष्टि होना बाकी है I

Q.3 ओमिक्रोन वेरिएंट को लेकर क्या सजगता जरूरी है?

Ans- सरकार और WHO की दी गई गाइड लाइन का पालन करे I

Q.4 कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को क्यों खतरनाक माना जा रहा है?

Ans- क्युकी इसके स्पाइक प्रोटीन में 30 से ज्यादा हुए है, जो की किसी वायरस को अधिक संक्रामक बनता है I

Q.5 नए कोविड वैरिएंट का नाम ओमिक्रोन क्यों रखा गया है ?

Ans- वैसे तो Omicron वेरिएंट का वैज्ञानिक नाम B.1.1.1.529 है I लेकिन इतना कठिन नाम होने की वजह से इसका नाम जागरूकता फ़ैलाने के ओमिक्रोन रखा गया है I

Q.6 कोविड-19 वायरस का नया खतरनाक वेरिएंट ओमिक्रोन किस देश में पाया गया है?

Ans- ओमिक्रॉन का पहला केस 24 नवंबर 2021 को साउथ अफ्रीका में मिला। अभी वर्तमान समय में 160 से देशो में यह फ़ैल चूका है I

आशा है की आप इस पोस्ट में माध्यम से कोरोना के इस खतरनाक संस्करण के बारे में सभी आवश्यक जानकारी मिल गई होगी I अगर आप को भी इससे सुरक्षित रहना है तो आप इस पोस्ट में बताये गए नियमो का पालन करे I जिससे की आप आपका परिवार कोरोना वायरस से बचा रह सके I

इस प्रकार से और भी जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट Hindineer.com को फॉलो करे I

धन्यवाद!

Rate this post
Previous articleआईपीएल लाइव मैच कैसे देखें? (100% फ्री में!) | Ipl Live Match Kaise Dekhe?
Next articleकर्नाटक हाई कोर्ट केस स्टेटस कैसे देखे? | Karnataka High Court Case Status
हेलो दोस्तों! में Mayur Arya [hindineer.com] का Author & Founder हूँ। में Computer Science (C.s) से ग्रेजुएट हूँ। मुझे latest Topic (हिन्दी मे) के बारे में जानकारी देना अच्छा लगता है। और में Blogging क्षेत्र में वर्ष 2018 से हूँ। इस ब्लॉग के माध्यम से आप सभी का ज्ञान का स्तर को बढाना यही मेरा उद्देश्य है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here